रविवार

Aaj Ka Jeevan Mantra || आज का जीवन मंत्र | मोक्ष का पात्र कौन

 Aaj Ka Jeevan Mantra || आज का जीवन मंत्र 


दोस्तो अगर हमारे दिन की शुराआत नई ऊर्जा और नए Gyaan साथ हो तो बात ही कुछ और है | मैं आज आप के लिए नया Jeevan Mantra लाई हूँ | यह Jeevan Mantra मैं धार्मिक शास्त्रों से लाती हूँ | आज किसी के पास समय नहीं है पर रोज इन Jeevan Mantra को पढ़कर Gyaan बढाया जा सकता है |रोज नया Jeevan Mantra पढ़ें और अपने जीवन में ऩया प्रकाश लाएँ |



आज का जीवन मंत्र संस्कृत में | Today's Life Mantra In Sanskrit


यं हि न व्यथयन्त्ये पुरूषं पुरूषं 

पुरूषर्षभ |

समदु:खसुखं धीरं सोsमृतत्वाय 

कल्पते ||


आज का जीवन मंत्र हिन्दी में | Today's Life Mantra In Hindi


सुख दुख को समान समझने बाले जिस धीर पुरुष को विषय व्याकुल नहीं करते वे ही मोक्ष के पात्र हैं ||


आज का जीवन मंत्र अंग्रेजी में | Today's Life Mantra In English


The resolute persons, who understand happiness and sorrow as equal and do not disturb from the desires, only they are eligible for salvation.


अन्य पढ़ें 



कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Your comments will encourage me.So please comment.Your comments are valuable for me