शुक्रवार

Aaj Ka Vichaar || Aaj Ka Suvichaar || आज का विचार || Today's Thought

 Aaj Ka Vichaar || Aaj Ka Suvichaar || आज का विचार || Today's Thought



आज का विचार हिन्दी में || Aaj Ka Vichaar in Hindi 


मनुष्य जीवन का पता नहीं,कब साँसें थम जाएँ ,

कब इहलीला सामाप्त हो जाए और इच्छाएँ अधूरी ही रह जाएँ | तो भजन,भोजन,भ्रमण,ऱमण और योग भरपूर करो


Today's Thought in English || Aaj ka Vichaar in English


Human life is uncertain, we do not know when the breath stops, When Ihleela ends and when desires remain unfulfilled. So  bhajans, food, excursions ,enjoyment and yoga should be done to the fullest.


বাংলা ভাষায় আজ কা বিচার || Aaj Ka Vichaar in Bangla 


আমরা যে কোন সময় মারা যেতে পারি, তাই ভজন, খাবার, সফর, ধ্যান এবং যোগব্যায়াম করি।


தமிழ் மொழியில் இன்றைய சிந்தனை || Aaj Ka Vichaar in Tamil


நாம் எந்த நேரத்திலும் இறக்கலாம்,எனவே பஜனைகள், உணவு, சுற்றுப்பயணங்கள், தியானம் மற்றும் யோகா செய்யுங்கள்.


अन्य पढ़ें 

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Your comments will encourage me.So please comment.Your comments are valuable for me